?

Log in

monkey

lost... for good!!!




ज़िन्दगी से खुश हूँ मैं,
      या मुझसे खुश है ज़िन्दगी;
सालों तक राह तकी जिसकी,
      दीदार आपका करा दिया|

नाम तेरे के आगे भी,
      जानूँ तुझको, ये हसरत है;
बिन बात किये ये आलम है,
      बातें होंगी तो क्या होगा|

खुद भी खुद पर हैरान हूँ मैं,
      बिन जाने अपना कहा तुम्हे;
ये साजिश तेरी कशिश की है,
      पागल न मुझको कहियेगा|

मासूम निगाहों पर अपनी,
      पर्दा पलकों का रहने दो;
जब - जब झाँकेंगी चिलमन से,
      कोई मुझ जैसा मर जाएगा|
 
 

Comments